CM Relief Fund | CM helpline | Visit GoI Portal [Click Here] Helpline Number : 104 (8:00 AM to 8:00 PM) / 01123978046

FAQs

उत्तर.  कोराना वायरस (COVID-19) बीमारी एक नए प्रकार का वायरस है। जो प्रथम बार चीन के हुबई प्रांत के वुहान शहर में चल रहे निमोनिया के महामारी में पाया गया है।

उत्तर. अभी तक कोराना वायरस (COVID-19) का पक्के तौर पर स्त्रोत का पता नहीं चला है। कोरोना वायरस फैमली में कई तरह के वायरस आते है, जो मनुष्यों में सर्दी-खांसी जैसी बीमारियों से लेकर SARS (Severe Acute Respiratory Syndrome) MERS (Middle East Respiratory Syndrome) जैसी गम्भीर बीमारियों के लिए जिम्मेदार है। यह वायरस जानवरों में भी पाया जाता है। प्रारंभ में इस बीमारी के मरीजों का संबंध वुहान शहर में सी-फूड (Sea Food) मार्केट व जानवरों के बाजार से था। अतः यह संभावना है कि यह वायरस जानवरों से मनुष्यों में आया है।

उत्तर. इस रोग के प्रारंभिक लक्षण तेज बुखार, खांसी व साँस लेने में तकलीफ है।

उत्तर. मनुष्यों से मनुष्यों में यह बीमारी खांसते व छींकने से फैलती है।

उत्तर. दिनांक 11.3.2020 तक भारत में इस बीमारी के 60 मरीजों की पुष्टी हुई है।

उत्तर. भारत सरकार द्वारा स्थिति पर कड़ी नजर रखी जा रही है। इस संबंध में समय-समय पर दिशा-निर्देश राज्य सरकार को दिये जा रहें है। राज्य सरकार द्वारा प्रिंटिंग एवं इलेक्ट्रोनिक मीडिया के माध्यम से ’बचाव व नियंत्रण’ के संबंध में प्रचार-प्रसार किया जा रहा हैं, संभावित मरीजों को लक्षण होने पर जांच के लिए नमूनों को एम्स भोपाल (AIIMS, Bhopal)  एवं राष्ट्रीय जनजाति स्वास्थ्य अनुसंधान संस्थान, जबलपुर (NIRTH) में जांच की सुविधा उपलब्ध है।

उत्तर. बचने के उपाय –

  • चीन या अन्य प्रभावित देषों की अत्यंत आवष्यक होने पर ही यात्रा करें।
  • व्यक्तिगत साफ-सफाई का ध्यान रखें।
  • बार-बार-साबुन व पानी से अच्छी तरह हाथ धोवें।
  • खांसने व छींकते समय मुंह पर रूमान व कपड़ा रखें।
  • संक्रमित व्यक्ति से कम से कम 1 मीटर की दूरी बनाए रखें। यदि पास जाना आवश्‍यक हो तो मास्क का प्रयोग करें।

उत्तर. यदि किसी कोरोना वायरस से संक्रमित मरीज के सम्पर्क में आ जाते है तो, सम्पर्क में आने वाले दिन से ही 28 दिन तक निम्नलिखित लक्षणों पर निगरानी रखें एवं आईसोलेशन में रहे –

  • तेज बुखार
  • खांसी
  • श्‍वास लेने में तकलीफ या श्‍वास चलना, यदि उपरोक्त में से कोई भी लक्षण प्रकट होता है तो तुरंत नजदीक के शासकीय स्वास्थ्य संस्था में संपर्क करें। चिकित्सक की सलाह लेवे तथा संपर्क में आने वालो की जानकारी चिकित्सक को देवे।

उत्तर. चीन व अन्य कोरोना वायरस से प्रभावित देशों की यात्रा करना सुरक्षित नहीं है। अनावश्‍यक यात्रा करने से बचे एवं अगर यात्रा करना अत्यंत आवश्‍यक हो तो निम्नलिखित बातों को ध्यान रखें-

  • व्यक्तिगत सफाई का ध्यान रखें एवं अपने स्वास्थ्य पर कड़ी नजर रखे।
  • तबीयत खराब होने पर तत्काल चिकित्सक की सलाह ले।
  • यदि यात्रा करने के समय तबीयत खराब हो तो अपनी बीमारी के संबंध में हवाई जहाज के कर्मचारी को बता दे एवं मास्क लें लें।
  • भारत शासन की स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्रालय पर दी गई ट्रेवल एडवाजरी को प्रवास करने के पहले देखे।

उत्तर. नहीं, वर्तमान में कोराना वायरस (COVID-19) की कोई टीका एवं इलाज उपलब्ध नहीं है।

उत्तर. कोराना वायरस (COVID-19) के लक्षण (तेज बुखार, खांसी या सांस लेने में तकलीफ होना) होने पर नजदीकी शासकीय चिकित्सालय में जा कर जांच करवाए। चिकित्सक के द्वारा यह निर्णय लिया जावेगा कि आपकी जांच का सेम्पल (थ्रोट स्वाब, रक्त) लिया जाना है या नहीं।